2018 में सर्वश्रेष्ठ: रंगमंच

Best Theatre plays of 2018
Best Theatre of 2018

मुंबई में रंगमंच हमेशा की ही तरह गुलजार है ऐसा इसलिए भी है क्योंकि उपनगरों में छोटे छोटे मंच उपलब्ध हैं। जो 10 नाटक चुने गए हैं वो हो सकता है सर्वश्रेष्ठ ना हों लेकिन उनमें से कुछ नाटकों ने अलग करने की कोशिश की है, भले ही वो खासे सफल ना रहे हों लेकिन उन्होंने एक बनी बनाई लीक को तोड़ने की कोशिश तो की ही है। सूची के सभी नाटकों का पहला मंचन इस साल नहीं हुआ है लेकिन सभी का 2018 में मंचन हुआ है। यहां जो लिस्ट है उसे इस आधार पर ना देखें कि जो पहले नंबर पर है वो सबसे बढ़िया है या जो आखिरी पर है वो पहले से कम अच्छा है।

डिटेक्टिव नौ दो ग्यारहडिटेक्टिव नौ दो ग्यारह

ये नाटक अलफ्रेड हिचकॉक और फिल्म नॉयर को अतुल कुमार की श्रद्धांजलि है। नाटक थोड़ा विचित्र है और मजेदार भी। इसमें एक मासूम डॉक्टर एक सुंदर लेकिन खतरनाक औरत, झक्की खलनायक के जाल में फंस जाता है। हिचकॉक की फिल्मों में मैकगुफ्फीन प्लॉट का अहम हिस्सा होता था, इस नाटक में भी है।

 

बेबीज़ ब्लूजबेबीज़ ब्लूज

मां बनने के बाद होने डिप्रेशन को लेकर लिखे गए टैमी रॉयन के इस नाटक को इला अरुण और केके रैना ने निर्देशित किया है। नाटक में दिलनाज ईरानी ने दहला देने वाली स्थिति से गुजरती मां के किरदार को मंच पर अद्भुत ढंग से जिया है। अंकुर राठी ने भी सहयोगी लेकिन असहाय पति के किरदार में जान फूंक दी है।

 

डेविड कोलमैन हैडलीडेविड कोलमैन हैडली

डेविड कोलमैन हैडली एक पाकिस्तानी अमेरिकी है जो अपनी जड़ों की तलाश में एक आतंकी और 26\11 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड में से एक बन जाता है। इस एकांकी नाटक को जैफ गोल्डबर्ग ने लिखा है, निर्देशित किया है और इसमें जीवंत अभिनय भी किया है।

 

Naseeruddin Shah in The Truthद ट्रूथ

अगर नसीरुद्दीन शाह किसी नाटक में अभिनय कर रहे हों तो उसे देखना जरुरी हो जाता है। फ्लोरियन जैलर्स द्वारा लिखित इस शानदार नाटक को नसीर ने पत्नी रत्ना पाठक शाह के साथ सह निर्देशित किया है। नसीर ने इसमें एक ऐसे शख्स का किरदार निभाया है जिसका संबंध अपने सबसे करीबी दोस्त की पत्नी से है। नाटक में झूठ और छल-कपट का ऐसा प्रपंच रचा गया है जो नाटक में कई पेचिदा गुत्थियों को सामने लाता है।

 

हैला फरमाइशहैला फरमाइश

स्नेह सप्रू के लिखे इस नाटक को यूकी इलियास ने निर्देशित किया है। ये नाटक हरियाणा के एक गांव की मुट्ठी भर औरतों प आधारित है जो कल्पना चावला की अंतरिक्ष यात्रा से प्रेरित होकर एक स्थानीय रेडियो स्टेशन को चलाती हैं ताकि वो विज्ञान और उम्मीदों की कहानी दुनिया के साझा कर सकें।

 

सिंग इंडिया सिंग#सिंगइंडियासिंग

बग्स भार्गव कृष्णा और राहुल डाकुन्हा द्वारा लिखित इस संगीतमय नाटक को नादिर खान ने निर्देशित किया है। नाटक के गानों को संगीत क्लिंटन सेरेजो ने दिया है। नाटक एक संगीत रिएलिटी शो और कुछ बेहद प्रतिभावान युवा गायकों के  इर्द गिर्द घूमता है ।

 

 

A farming Story

फॉर्मिंग स्टोरी

बग्स भार्गव कृष्णा और राहुल डाकुन्हा द्वारा लिखित इस संगीतमय नाटक को नादिर खान ने निर्देशित किया है। नाटक के गानों को संगीत क्लिंटन सेरेजो ने दिया है। नाटक एक संगीत रिएलिटी शो और कुछ बेहद प्रतिभावान युवा गायकों के  इर्द गिर्द घूमता है ।

 

 

संगीत देवबाभलीसंगीत देवबाभली

संत तुकाराम की उपेक्षित पत्नी अवाली और भगवान विठोबा की उपेक्षित पत्नी लकुबाई के बीच के जुड़ाव पर आधारित इस नाटक को प्रजाक्त देशमुख के दिल को छू लेने वाले मराठी संगीतमय नाटक में शुभांगी सदावर्ते और मानसी प्रभाकर जोशी की मधुर आवाज ने चार चांद लगा दिए हैं। इन दोनों ने कुछ बेहद शानदर अभांग इस नाटक में गाए हैं।

 

एपिक गड़बड़एपिक गड़बड़

जब शेक्सपीयर पृथ्वी थियेटर आएं और नाटककार से उनका शाब्दिक द्वंद हो तो समझ जाइये कि नाटक मकरंद देशपांडे का है।

 

 

समाजस्वास्थ्यसमाजस्वास्थ्य

अजित दलवी के इस भावोत्तेजक नाटक को अतुल पेठे ने निर्देशित भी किया है और महिलाओं के लिए गर्भ निरोधक और यौन स्वतंत्रता की आवाज उठाने वाले जोशीले समाज सुधारक की भूमिका भी निभाई है। 20 के दशक के समाज सुधारक रघुनाथ ढोंडो कार्वे को अश्लीलता के आरोपों में कई बार अदालतों के चक्कर भी काटने पड़े। एक ऐसे ही केस में इनके वकील डॉक्टर अंबेडकर भी थे।

अनुवाद – ईश्वरी क्रिएशंस

Post Comment(s)
Hide Comment(s)